×
userImage
Hello
 Home
 Dashboard
 Upload News
 My News

 News Terms & Condition
 News Copyright Policy
 Privacy Policy
 Cookies Policy
 Login
 Signup
 Home All Category

Achievement / / India / Maharashtra / Wardha
हिंदी विवि के मुख्य राजभाषा अधिकारी बने प्रो. कृपाशंकर चौबे

By  Public Reporter
Wed/Feb 10, 2021, 10:17 AM - IST -333

बांग्लादेशी लेखिका तस्लीमा नसरीन के साथ प्रोफेसर कृपाशंकर चौबे
  • पूर्व रेल मंत्री ममता बनर्जी के समय में रेल मंत्रालय में हिंदी सलाहकार समिति के सदस्य के रूप में भी सेवाएं दे चुके हैं।
Wardha/

महात्‍मा गांधी अंतरराष्‍ट्रीय हिंदी विश्‍वविद्यालय के मानविकी एवं सामाजिक विज्ञान विद्यापीठ के डीन एवं जनसंचार विभाग के विभागाध्‍यक्ष प्रोफेसर कृपाशंकर चौबे को विश्‍वविद्यालय का मुख्‍य राजभाषा अधिकारी बनाया गया है। साथ ही वे विश्‍वविद्यालय में कई अन्‍य विभागों के प्रभारी अध्‍यक्ष एवं कई बड़े दायित्‍वों का निर्वहन भी कर रहे हैं। प्रोफेसर चौबे इससे पूर्व लंबे समय तक जनसत्‍ता जैसे प्रतिष्ठित समाचारपत्र में अपनी सेवाएं दी हैं। देश के राष्‍ट्रीय एवं अंतरराष्‍टीय समाचरपत्रों में एक खास विचारधारा के लिए लेखन का कार्य करते रहते हैं। प्रोफेसर चौबे समाजसेवी महाश्‍वेता देवी के दत्‍तक पुत्र के रूप में भी जाने जाते हैं। भारत की पूर्व रेल मंत्री ममता बनर्जी के समय में रेल मंत्रालय में हिंदी सलाहकार समिति के सदस्‍य के रूप में भी प्रोफेसर चौबे अपनी सेवाएं दे चुके हैं। इनकी महत्‍वपूर्ण रचनाओं में महाश्‍वेता देवी का जीवन और साहित्‍य, महाअरण्य की माँ, मृणाल सेन का छायालोक, करुणामूर्ति मदर टेरेसा और नजरबंद तसलीमा प्रमुख कृतियां हैं।

By continuing to use this website, you agree to our cookie policy. Learn more Ok